ओ से ओखली : उर्ख्याली (ओखली)

“पा…….पा! पा…पा !” जूली रोते-रोते चिल्लाई | पास में पापा फ़ोन पर बात कर रहे थे | संदीप की नजर जोर से रो रही अपनी बेटी पर पड़ी जिसने अपनी रोने की आवाज से पूरा …

Read moreओ से ओखली : उर्ख्याली (ओखली)

Garhwali Cooking

गाँव की प्रीती-भोज में गाँव वालो की भागीदारी

  शादी-ब्याह का सीजन इस बिखोती ( वैशाखी ) से शुरू हो गया है | एस ऐसे में शहर हो या गाँव , हर जगह एक रौनक छाने लगती है | और रौनक हो भी …

Read moreगाँव की प्रीती-भोज में गाँव वालो की भागीदारी