Ikigai book summary in hindi

Japanese Secret IKIGAI Book Summary In Hindi

ikigai Book Summary in hindi:- इकिगाई क्या है ? कैसे अपने इकिगाई को ढूंढा जाय ? इकिगाई किताब की हिंदी समरी में इन सवालों के जवाब और लम्बी ,खुशहाल और स्वस्थ जिंदगी जीने Japanese secrets के बारे में बताया गया है। Ikigai एक जापानीज किताब है | इकिगाई जापानीज में लिखी गई थी |

Ikigai book summary in hindi पढने पर आप जान पाएंगे कि कैसे , हिरोशिमा और नागासाकी में परमाणु बम पढ़ने के बावजूद जब जापान पूरी तरह सदमे में था और दुनिया से  पिछड़ चुका था।  जापान के बारे में तब कहा जाता था  कि जापान दुनिया मे हमेशा गरीब और पिछड़ा ही रहेगा । लेकिन बिना किसी प्राकृतिक संसाधन के  जापान आज एशिया महाद्वीप का इकलौता विकसित देश है जो अपनी Technolgy के दम पर अमेरिका जैसे विश्व शक्ति को टक्कर देता है।

जापानियों के अनुसार हर व्यक्ति की एक इकिगाई (ikigai) होती है. इकिगाई शब्द का जापानी भाषा में अर्थ है ‘सुबह उठने का कारण’. इसे जीवन का उद्देश्य या जीवन का आनंद लेने का कारण भी कहा जाता है.

दोस्तों जापानीज लोगों ने वो कर दिखाया है जो शायद ही कोई कर पाता । दुनिया भर में आज जापान के लोगों की जीवन शैली , उनकी लम्बी और हैप्पी लाइफ के चर्चे चलते रहते हैं।

दोस्तों Life Purpose Ikigai book summary में हम बात करेंगे ,एक खास  जापनीज रहस्य जिसके जरिये आज जापान और जापान के लोगों को सबसे समृद्ध देशो में गिना जाता है।


Ikigai Book Summary in Hindi

 

1. What is Passion

 

2. What is Profession

 

3. What is Vocation

 

4. What is Mission

 

5. Ikigai

 

6.Why we Should Read This  Book?

 

7. How To Find Your Ikigai?

 

8. जापनीज लोगों का लम्बे , Happy Life और स्वस्थ जीवन का राज।

 


PASSION

जब आप वो काम जिससे आप प्यार करते है और जिसे आप करने में निपुण है , इन दोनों को मिला देते हो तो  बनता है PASSION।

काम से प्यार + करने में निपुण = PASSION

PROFESSION

जब आप वो काम जिसे आप करने में निपुण है और उसको करने के लिए आपको पैसे भी मिलेंगे, इन दोनों को मिला देते हो तो बनता है PROFESSION।

करने में निपुण + काम से पैसे = PROFESSION

VOCATION

जब आप वो काम जिसे करने से आपको पैसे मिलते है। और दुनिया को उस काम की जरुरत भी  है, इन दोनों को मिला देते हो तो बनता है VOCATION।

काम के पैसे + दुनिया को जरुरत = VOCATION (पेशा)

 

MISSION

जब आप वो काम जिसकी दुनिया को जरुरत है । और उस काम से आप प्यार भी करते है। इन दोनों को मिला देते है, तो बनता है, MISSION.

दुनिया को जरुरत + काम से प्यार = MISSION.

 

WHAT IS IKIGAI

Find Your Ikigai
Ikiagi

आखरी  में जब आप ऊपर दिए गये चारो  PASSION, PROFESSION, VOCATION, और MISSION को मिला देते हो तो बनता है। “IKIGAI”

PASSION + PROFESSION + VOCATION + MISSION = IKIGAI 

जब भी आप कोई भी कार्य करें तो अपने आप से हमेशा पूछे की क्या वो काम आपको करना अच्छा लगया है, क्या वो काम करने आप निपुण है। क्या वो काम मुझे पैसे देगा। और क्या उस काम की दुनिया को जरुरत है ।

हर किसी का अपना एक Life Purpose  Ikigai होता है उसी को हमे खोजना है। जापान के लोग उसी को ढूंड कर अपनी ज़िन्दगी उसी के अनुसार जीते है।

Why We Should Read Ikigai Book?

इस Motivational Book  में  न सिर्फ  जापानी रहस्य IKIGAI के बारे में बताया गया है। बल्कि आदते जो हमारी जीवन की उम्र और खुशियों को कम करती हैं उनके बारे में भी बताया गया है।

जापान में एक जगह है ओकिनावा , वहाँ के लोगों की औसत आयु दुनिया मे सबसे अधिक है। आखिर ऐसी क्या ख़ास बात है वहाँ के लोगों की जो वो इस समयमें भी 90-90 सालों तक  एक खुशहाल और स्वस्थ जीवन बिताते हैं।

Ikigai Book में बताया गया है कि तनाव लम्बी खुशहाल जिंदगी का दुश्मन कैसे है, अपने काम में फोकस कैसे करें ।

साथ ही सबसे महत्व चीज हमें क्यों कठिन काम को चुनना चाहिए, और एक समय में क्यों एक ही  काम करना चाहिए ।।

जापनीज लोंगो की लंबी उम्र के राज इसमें बताया गया है कि कैसे जापान में WHO के अनुसार मानव जीवन की औसत उम्र की संभावना 80+ वर्ष है।

संक्षेप में कहा जाय तो अपने Goal को समय पर पाने के लिये, लम्बी और Happy life, Quality of life,. Fulfilling life, Happy lifeजीने   के लिए अगर कोई किताब हमे बताती है तो वो है इकिगाई 

 

अपने इकिगाई को कैसे ढूंढें ?

अपने इकिगाई को ढूंढने के लिए सबसे जरूरी चीज यही है कि हमें ऊपर दी गई चार बातों का पता होना चाहिए।

हमें सबसे पहले अपना Passion ,यानि हमारी किसमें रुचि है, वो निश्चित करना होगा । हर व्यक्ति की रुचि अलग-अलग होती है। जैसे किसी की पढ़ने में तो किसी की खेलने में, किसी की रुचि Art,   के क्षेत्र में होती है तो किसी को Acting करना अच्छा लगता है।

अपनी रुचि के आधार पर इकिगाई  पहला Step : Passion बनाया या फिर ढूंढा जा सकता है।

इसके बाद अगले कदम में अपने Passion को अपने Profession बदलना होता है ।जैसे यदि हमारा Passion  ,Acting  करना है  तो उसे Profession भी बनाया जा सकता है । जहाँ से हम पैसे कमा सकते हैं।

इसके बाद Passion और Profession  बनाने के बाद अगला कदम होता है , Vocation ।
जैसा कि ऊपर भी लिखा हुआ है जब आपके Profession से  दुनिया की जरूरत भी पूरी होती है तो आपका Passion जो Profession बन गया था, अब Vocation कहलाता है।

इकिगाई  ढूंढने का अंतिम चरण है  MISSION।  
यानि कि जब आपको अपने Vocation से प्यार हो जाता है ,तो वह Mission कहलाता है।

इकिगाई एक जापानीज बात है, जो हमें धीरे-धीरे समझ आती है।

तो क्या आपने अपनी इकिगाई खोज ली है?

  • आप वह कौन सा काम करने जा रहे हैं जिसे आप करना पसंद करते हैं?
  • क्या यह ऐसा काम है जिसकी दुनिया में ज़रूरत है?
  • क्या यह ऐसा काम है जिसमें आप एक्सपर्ट हैं?
  • और क्या यह ऐसा काम है जिससे आप पैसा कमा सकते हैं?
  • लंबा, स्वस्थ और खुशहाल जीवन बिताने के लिए आप आज क्या कर सकते हैं?

Read moreJapanese Secret IKIGAI Book Summary In Hindi